Sarkari Naukri 2022: अगर आप भी जल्दी-जल्दी बदलते हैं जॉब, तो जान लें इसके नुकसान और फायदे

0
112

Sarkari Naukri 2022: If you also change jobs frequently, then know its disadvantages and advantages

Sarkari Naukri 2022: बार-बार जॉब बदलना तरक्‍की का जरिया माना जाता है, लेकिन कई बार यह कर्मचारी को मुश्किल में डाल देता है। अगर कोई कर्मचारी केवल सैलरी और अच्छी पोजीशन के लिए जॉब बदल रहा है तो यह उसके करियर पर नकारात्‍मक प्रभाव डालती है…

मुख्य बातें

  • किसी भी सेक्‍टर में बार-बार नौकरी बदलना हो सकता है घातक
  • हायर करने से पहले नौकरी बदलने के कारणों पर कंपनी देती है ध्‍यान
  • करियर में ब्रेक लेना पॉजिटिव, लेकिन इसका सही कारण होना जरूरी

Sarkari Naukri 2022: लगातार नौकरी बदलने को कुछ लोग तरक्‍की का जरिया मानते हैं। ऐसे लोग बहुत जल्दी-जल्दी नौकरियां बदलते या बदले की चाह रखते हैं। अगर आप भी इनमें से एक हैं तो जान लीजिए कि इससे कंपनी को आपकी कुछ आदतों के बारे में पता चलता है। ऐसे लोगों के बारे में सोचा जाता है कि ये या तो अच्छी सैलरी और पॉजिशन की चाह में हैं या फिर नौकरी को लेकर गंभीर नहीं हैं। हालांकि इसमें कोई दो राय नहीं कि आज के समय में स्किल डेवलपमेंट के लिए अच्‍छा वर्क एक्सपीरियंस होना बेहद जरूरी है। एक समय के बाद बदलाव होना जरूरी भी है, जिससे आप खुद को अपडेट कर सकें या यह जांच सकें कि वातावरण व कंपनी के बदलाव से आपके प्रदर्शन पर क्‍या फर्क पड़ रहा है।

1- कुछ कर्मचारी काम के दौरान लिए गए गलत निर्णयों के दोष से बचने के लिए या वर्कलोड से बचने के लिए भी बार-बार जॉब बदलते हैं। ऐसे कर्मचारियों को हायर करने से पहले कंपनी पूरी जांच पड़ताल करती है। अगर नौकरी बदलने का यह कारण पता चलता है तो जॉब मिलनी मुश्किल हो जाती है।

2- अगर कर्मचारी के पास कंपनी छोड़ने का कोई बड़ा कारण न हो तो बार-बार जॉब चेंज करने पर कंपनी यह सोचती है कि वह एक ऐसा कर्मचारी है जिस पर पूरी तरह से निर्भर नहीं हुआ जा सकता है।

3- एक्सपर्ट मानते हैं कि करियर में ब्रेक लेना पॉजिटिव होता है, लेकिन सिर्फ सैलरी और अच्छी पोजीशन के लिए बार-बार जॉब बदलना अच्‍छा नहीं होता है।

4- अगर कर्मचारी शॉर्ट कॉन्ट्रैक्ट के पूरा हो जाने, ट्रेवलिंग या खुद का काम आदि कार्यों को पूरा करने के लिए करियर में ब्रेक लेता है तो इसे पॉजिटिव रूप में लिया जाता है।

5- किसी भी कर्मचारी का चयन करते समय कंपनी ध्यान देती है कि अगर उम्मीदवार अपनी पिछली कंपनी के बारे में नेगेटिव बातें करता है तो कर्मचारी बेहतर नहीं है। ये बातें कर्मचारी की छवि को कम करने का कार्य करती हैं।

हालांकि बहुत ज्‍यादा बदलाव कई बार नुकसान देय होता है। कोई भी कंपनी किसी को हायर करने से पहले उसके विषय में कुछ बातें जानने की कोशिश करती है। इस पर ही आपका करियर निर्भर कर सकता है।